Abhi Bharat

चाईबासा : प्राकृतिक आस्था स्थल तमाड़बांध के देशाऊली में अवैध तरीके से पूजा करने पर आदिवासी हो समाज ने लगाया रोक

चाईबासा में अवैध तरीके से प्राकृतिक आस्था स्थल तमाड़बांध (तांबो) के देशाऊली में हिन्दु पद्धति से पूजा करने वाले लगभग 30 महिलाओं को ग्रामीण मुण्डा श्रीचरण बोदरा के नेतृत्व में स्थानीय लोगों एवं आदिवासी हो समाज युवा महासभा के पदाधिकारियों के द्वारा रोक लगा दिया गया.

मिली जानकारी के अनुसार, रविवार की दोपहर एक बजे के आस-पास पीले रंग की साड़ी में देशाऊली की ओर महिलायें जाती हुयी दिखीं और धीरे-धीरे देशाऊली के अंदर प्रवेश कर हिंदु पद्धति से पूजा करना प्रारंभ की. जिसके बाद देशाऊली के आस-पास रह रहे स्थानीय लोग को इस गतिविधि को देखते ही प्राकृतिक आस्था स्थल पर छेड़छाड़ होने की जानकारी ग्रामीण मुण्डा एवं आदिवासी हो समाज युवा महासभा के पदाधिकारियों को टेलीफोनिक जानकारी दी. इसकी जानकारी होने पर तमाम लोग जुटे और कड़ी विरोध किया.

आस्था स्थल के अपमान एवं अपवित्र होने से आक्रोशित होकर महिलाओं को स्थानीय लोगों के द्वारा घेर लिया गया. इसे पारंपरिक रीति-रिवाज से ग्राम के दियुरियों द्वारा शुद्धिकरण करने के लिये तुरंत पंचायती किया गया और कड़ी चेतावनी देते हुए उक्त महिलाओं को पारंपरिक विधि-विधान के अनुरूप जुर्माना होने का फरमान सुनाया गया. इसके साथ ही उन महिलाओं को उस स्थल से अविलंब पूजा सामग्री हटाने का कड़ी हिदायत देते हुये देशाऊली के आस-पास से भगाया गया. महिलाओं ने अपनी गलती को स्वीकार की और क्षमा मांगते हुये पारंपरिक विधि-विधान के अनुसार जो भी जुर्माना होगा उसे भरने के लिये तैयार हुयीं तथा इन्ही शर्त्तों के साथ मामला को शांत करते हुये आदिवासी हो समाज युवा महासभा के पदाधिकारियों ने किसी भी गांव की प्राकृतिक आस्था स्थल देशाऊली को छेड़छाड़ न करने की चेतावनी दी. वहींऐसी स्थति में हर गांव के ग्रामीणों को जोरदार विरोध करने के लिये अपील किया गया.

दरअसल तमाड़बांध का देशाऊली के संरक्षण एवं सुरक्षा हेतु चारदिवारी का निर्माण किया गया है और इनके पश्चिम दिशा का दीवार टूटा हुआ है. स्थानीय लोगों में इसे तुरंत मरम्मत कराने की मांग उठी. इस अवसर पर ग्रामीण मुण्डा चरण बोदरा,डाकुवा मानसिंह देवगम, जॉन बोदरा,संजय बोदरा आदिवासी हो समाज युवा महासभा केन्द्रीय अध्यक्ष डॉ बबलु सून्डी, केन्द्रीय महासचिव इपिल सामड, जिलाध्यक्ष गब्बरसिंह हेम्ब्रम, बसीकेपी अनुमंडल अध्यक्ष मदन बोदरा, सदस्य शंकर सिदु, विनयजीत कुंकल, सुरेश देवगम, नंदलाल आल्डा एवं गुलिया आल्डा आदि लोग मौजूद थे. (संतोष वर्मा की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.