Abhi Bharat

बेगूसराय : एके-47 बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी के घर पर पुलिस ने चस्पा किया इश्तेहार

बेगूसराय से बड़ी खबर है, जहां नगर थाना क्षेत्र में 20 सितंबर को बरामद किए गए एके-47 मामले के मुख्य आरोपी के गिरफ्तार नहीं होने पर पुलिस ने इश्तेहार चिपकाया है. गुरुवार को नगर थाना की पुलिस थाना अध्यक्ष अभय शंकर के नेतृत्व में दोपहर में सिंघौल ओपी क्षेत्र के बगवाड़ा गांव पहुंची और गांव में ढ़ोलक बजाकर लोगों को जमा करने के बाद मुख्य आरोपी नंदन चौधरी एवं किशन कुमार के आवास पर नोटिस चिपकाया गया है. ढ़ोल बजाते हुए पहुंची पुलिस की कार्रवाई को देखने के लिए मौके पर बड़ी संख्या में लोग जुट गए. अब आरोपी के आत्मसमर्पण नहीं करने पर घर की कुर्की जब्ती की जाएगी.

गौरतलब है कि 19-20 सितंबर की देर रात पुलिस को सूचना मिली कि किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए नगर थाना क्षेत्र के कपस्या मोहल्ले में एके-47 राइफल तथा बड़ी संख्या में गोली के साथ अपराधी जुटे हुए हैं। चर्चा थी कि बरौनी रिफाइनरी के एक इंजीनियर की हत्या 20 सितंबर कि सुबह होना था, उसी के लिए हथियार तैयार कर रखा गया था लेकिन रिफाइनरी टाउनशिप के मुख्य द्वार के सामने स्थित कपस्या चौक के आसपास संदिग्ध गतिविधि दिखने के बाद पुलिस को इसकी भनक लग गई. सूचना का सत्यापन किए जाने के बाद एसपी अवकाश कुमार के निर्देश पर सदर डीएसपी अमित कुमार के नेतृत्व में बनाई गई विशेष टीम ने छापेमारी कर चंद्रदेव कुंवर के पुत्र मंजेश कुमार उर्फ बड़े के घर से एक स्वचालित एके-47 राइफल, दो लोडेड मैगजीन, एके-47 का 104 गोली, अन्य हथियार का 84 गोली, एक मोटरसाइकिल एवं एक मोबाइल बरामद किया था। बरामद किया गया गोली सील पैक रहने के कारण पुलिस भी चौंक गई थी तथा एसपी ने खुद मामले का गहन पड़ताल किया.

पूछताछ मेंं खुलासा हुआ था कि इंडियन ऑयल जैसे बड़ेे-बड़े औद्योगिक समूह में पेटी कांट्रेक्टर का काम करने वाले नंदन चौधरी द्वारा यह एके-47 और गोली अपने ड्राइवर मंजेश को दिया गया था. देश में प्रतिबंधित इस अत्याधुनिक हथियार के साथ पकड़े गए मंजेश ने पुलिस के सामने बयान दिया था कि नंदन चौधरी द्वारा हथियार रखे जाने के बाद बीच-बीच में नंदन का भतीजा किशन कुमार एके-47 ले जाता था और फिर वापस पहुंंचा देता था, तभी से पुलिस नंदन चौधरी को किशन कुमार को गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की बात कह रही है, लेकिन घटना के दो महीना बाद भी उसे पकड़ा नहीं जा सका. इसके बाद न्यायालय के आदेश पर गुरुवार को आरोपी के घर पर इश्तेहार चिपकाया गया है. (पिंकल कुमार की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.