Abhi Bharat

पत्रकार सुभाष कुमार की हत्या लोकतंत्र के लिए घातक : मधुरेश प्रियदर्शी

सूबे के बेगूसराय में बेखौफ अपराधियों ने सरेशाम एक निजी चैनल के पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी. घटना परिहारा थाना इलाके के सांखों गांव की है. मृतक की पहचान सांखो गांव निवासी सुभाष कुमार के रूप में की गई है. सुभाष कुमार एक नीजी चैनल के लिए काम करते थे. पत्रकार सुभाष कुमार की हत्या के बाद इलाके के लोगों के अलावे जिले के पत्रकारों के बीच भय व्याप्त है.

पत्रकार सुभाष की हत्या शराब व बालू माफियाओं के गठजोड़ का परिणाम

पत्रकार प्रेस परिषद् बिहार राज्य इकाई ने बेगूसराय के परिहारा थाना क्षेत्र में घटित पत्रकार सुभाष हत्याकांड की कड़ी निंदा की है. परिषद् के प्रदेश अध्यक्ष मधुरेश प्रियदर्शी ने इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि लोकतंत्र के एक मजबूत सिपाही की हत्या कर अपराधियों ने पुलिस को खुली चुनौती दी है. उन्होंने कहा कि पत्रकार की हत्या लोकतंत्र के लिए घातक है. पत्रकार प्रेस परिषद् के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मृतक पत्रकार सुभाष कुमार पत्रकारिता के माध्यम से अक्सर बालू माफियाओं एवं शराब माफियाओं का पोल खोला करते थे. जब वे माफिया सुभाष की लेखनी को नहीं दबा सके तो उन लोगों ने उसको अपने रास्ते से हटा दिया. प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सूबे बिहार में बालू और शराब माफियाओं का एक बहुत बड़ा नेटवर्क है जो अपने कारोबार के रास्ते में बाधक मीडियाकर्मियों एवं पुलिसकर्मियों को समय-समय पर निशान बनाते रहते हैं. श्री प्रियदर्शी ने कहा कि बिहार में पत्रकारों की सुरक्षा एक अहम् सवाल है. सरकार को इस पर गंभीरतापूर्वक विचार करना चाहिए.

मृतक पत्रकार के परिजनों को सरकार दे मुआवजा, केस का हो स्पीडी ट्रायल

पत्रकार प्रेस परिषद् की राज्य इकाई ने बेगूसराय के मृतक पत्रकार के परिजनों को 25 लाख रुपये का मुआवजा देने, इस मामले में अपराधियों को चिन्हित कर उन्हें अविलंब गिरफ्तार करने, स्पीडी ट्रायल चलाकर अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने, मृतक पत्रकार के परिजनों को तत्काल सुरक्षा प्रदान करने, बिहार में पत्रकारों की हत्या पर रोक लगाने एवं सूबे में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांग सीएम नीतीश कुमार से की है. प्रदेश अध्यक्ष श्री प्रियदर्शी ने जोर देकर कहा कि अगर सरकार समय रहते इन मांगों को पूरा नहीं करती हैं तो हमारा संगठन बाध्य होकर जोरदार आंदोलन करेगा. (सेंट्रल डेस्क).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.