Abhi Bharat

नालंदा : घर बचाने की मुहिम में सड़क पर उतरी मोहल्ले की महिलाएं, जिला प्रशासन द्वारा करीब 200 घरों पर चस्पा किया गया है जमीन-मकान संबंधित नोटिस

नालंदा में सोहसराय थाना क्षेत्र के छोटी पहाड़ी मोहल्ले में जहरीली शराब से 12 लोगों की मौत के बाद जहां जिला प्रशासन ताबड़तोड़ कार्रवाई में जुटा है. वहीं वैसे लोगों के मकान और जमीन पर नोटिस चिपका दिया गया है जो अवैध तरीके से पहाड़ी क्षेत्र में रह रहे हैं और उनसे मकान जमीन संबंधित कागजात दिखाने की बात कही जा रही है. सैकड़ों की संख्या में महिला एवं पुरुष गुरुवार के दिन मोहल्ले की सड़क पर उतर कर जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया.

पीड़ित महिलाओं ने एक सुर में कहा कि दोषी कोई और है और सजा किसी और को दिया जा रहा है. दोषी कुछ लोग हैं और खामियाजा पूरे मोहल्ले वासी भुगत रहें है. पुलिस कभी भी उनके घर आकर तलाशी शुरू कर देती है, वह घर में किस अवस्था में बैठे हुए हैं, इसका भी ख्याल पुलिस प्रशासन के द्वारा नहीं रखा जाता है. मोहल्ले वासी अपना अपना काम छोड़कर धरना प्रदर्शन में बैठे हुए हैं. क्योंकि अब उनके सामने अपने घर को बचाने की जरूरत आन पड़ी है. मोहल्ले की साबो देवी ने बताया कि वह कई वर्षों से इस पहाड़ी पर रह रही है, अब ऐसे समय में जब घटना कोई और कर गया है उसकी सजा मोहल्ले वासियों को दी जा रही है. इस अवस्था में वह अपने घर को छोड़कर कैसे जाएंगे. हम लोग कमाने खाने वाले लोग हैं, अब ऐसी स्थिति में वह अपना घर बचाएं या अपना पेट पाले. मोहल्ले के निवासी कुंती देवी ने बताया कि पुलिस उनलोंगो से शराब कारोबारियों के बारे में पूछताछ करने आती है प्रशासन को सारे धंधेबाजो के बारे में जानकारी है. बावजूद वह मोहल्ले वासियों से पूछताछ कर उनकी सुरक्षा से खिलवाड़ कर रही है. उनलोगों की मांग है कि जिला प्रशासन दोषियों पर कार्रवाई करें और जो लोग पूर्व से यहां रह रहे हैं उनके साथ बर्बरता ना अपनाएं.

वहीं सदर एसडीओ कुमार अनुराग ने बताया कि पूरे पहाड़ी क्षेत्र का सर्वे कराना जरूरी है. ऐसे में पता चल पाएगा कि किन के पास मकान जमीन से संबंधित कागजात है और कौन अवैध रूप से रह रहे हैं. भविष्य में इस तरह की कोई बड़ी घटना ना हो इसको लेकर जिला प्रशासन के द्वारा यह कार्यवाई की जा रही है. (प्रणय राज की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.