Abhi Bharat

चाईबासा : आदिवासी हो समाज युवा महासभा के संयुक्त तत्वावधान में विशेष पशु चिकित्सा सह टीकाकरण शिविर का आयोजन

चाईबासा जिले के मझगांव प्रखंड के तरतरिया पंचायत अंतर्गत ग्राम मांगापाट, टोला-सिरासाई में प्रथम वर्गीय पशु चिकित्सालय मंझगांव एवं आदिवासी हो समाज युवा महासभा के संयुक्त तत्वावधान में विशेष पशु चिकित्सा सह टीकाकरण शिविर का आयोजन किया गया. इस शिविर में ग्रामीणों को मुर्गी पालन और बकरी पालन का प्रशिक्षण भी हो भाषा में दी गई.

डॉ बबलु सुन्डी ने बैल, बकरी, मुर्गी, बत्तख एवं अन्य 120 पशुओं का जांच के बाद इलाज किया और बांझपन एवं कृमि नाशक दवा का निःशुल्क वितरण भी किया गया. उन्होंने इस मौसम में पशुओं को होने वाली बीमारी से रोकथाम के लिए 90 मवेशियों को एचएसबीक्यू एवं 100 बकरियों को पीपीआर का टीका भी लगाया गया और सरकार द्घारा चलाई जा रही फ्लेगशीप योजना जैसे-राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम, मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना से संबंधित योजनाओं की जानकारी पशुपालकों को दीगई. डॉ सुन्डी ने बताया कि अब प्रत्येक पशु को टैग लगवाना अनिवार्य है और पशु का पंजीकरण एवं टैगिग होने के बाद उन्हें निशुल्क पेट के कीड़ों की दवा उपलब्ध कराई जा रही है. ग्रामीण मुंडा मंगल सिंह तिरिया के सहयोग से पशुपालकों को जागरूक कर ग्राम सभा, अंधविश्वास, एवं स्वरोजगार के बारे में भी जागरुक किया गया.

शिविर मेंआदिवासी हो समाज युवा महासभा के केद्रींय महासचिव इपिल सामड, प्रखंड अध्यक्ष सिकन्दर हेंब्रम, पूर्व केद्रींय अध्यक्ष भूषण पाट पिंगुवा, जिला उपाध्यक्ष गोविंद बिरुवा, अर्जून हेंब्रम, रामचंद्र जेराई, नरेश पिंगुवा, मार्शल पिंगुवा, शशिभूषण पिंगुवा, वृंदावन पिंगुवा, कृष्ण पिंगुवा, राजेंद्र पिंगुवा एवं ब्रुंगिया पिंगुवा आदि ने सहयोग किया. शिविर में पशुपालकों ने बड़ी संख्या में उपस्थित होकर प्रशिक्षण में भाग लिया एवं शिविर में वितरित होने वाली निशुल्क कृमि नाशक दवा का लाभ उठाया. (संतोष वर्मा की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.