Abhi Bharat

चाईबासा : दो लाख का ईनामी पीएलएफआई कमांडर अजय पुरती समेत आठ नक्सली गिरफ्तार

चाईबासा/पश्चिमी सिंहभूम जिला पुलिस और सीआरपीएफ 60 बटालियन को पीएलएफआई उग्रवादियों के खिलाफ एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. जहां दो लाख के इनामी पीएलएफआई के सब जोनल कमांडर अजय पूरती सहित आठ नक्सली गिरफ्तार किए गए हैं.

बता दें कि वर्षों से पश्चिमी सिंहभूम जिले के बंदगांव थाना एवं खूंटी जिले में सक्रिय रहे दो लाख के इनामी अजय पुरती के खिलाफ कुल 50 मामले दर्ज हैं. पश्चिमी सिंहभूम जिले में 43 अपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि 7 मामले खूंटी जिले में दर्ज हैं. पुलिस को अजय पुर्ती की और उसके सहयोगियों की वर्षों से तलाश थी. इनकी गिरफ्तारी बंदगांव थाना क्षेत्र के ईटी-बिरदा के जंगल क्षेत्र से हुई है. जिसमें इनकी निशानदेही पर कई हथियार एवं अन्य जरूरी सामान भी बरामद किए गए हैं.

पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा ने बुधवार की शाम मीडिया को बताया कि इनके सक्रिय होने की सूचना पर उनकी और सीआरपीएफ 60 बटालियन के कमांडेंट आनंद जेराई की निगरानी में चक्रधरपुर के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी नाथू सिंह मीणा और सीआरपीएफ के 2 आईसी विकास सिंह के नेतृत्व में एक अभियान शुरू किया गया था और इस अभियान दल के द्वारा सूचना के सत्यापन के दौरान इनकी गिरफ्तारी संभव हो पाई. इसमें जिला पुलिस के साथ सीआरपीएफ की भी भूमिका बहुत महत्वपूर्ण रही है. एसपी ने बताया कि अजय पुरती खूंटी जिला के मारंगहादा थाना के गाड़ामारा गांव का रहने वाला है. वर्तमान में वह गुदड़ी थाना के गुदीदिरी गांव में रहता था. उसके साथ अकिला सांडी पुरती उर्फ़ डिबोली, डुपन उर्फ तोपान कंडुलना, हेरमन सांडी पुरती, दोसरो मुंडा, पौलुस सांडी पुरती, गालू सांडी पुरती और प्रभु सहाय सिरूम को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से दो देसी कट्टा, आठ जिंदा कारतूस, वायरलेस सेट और चार्जर, पांच मोबाइल फोन, छः सिम कार्ड, पांच पिट्ठू बैग और हैंडबैग, दो मोटरसाइकिल, प्रतिबंधित पीएलएफआई संगठन का लेवी मांगने का पर्चा और चंदा रसीद और दैनिक जरूरत का सामान बरामद हुआ है. (संतोष वर्मा की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.