Abhi Bharat

नवादा : स्वागत समारोह एवं शिक्षा जागृति सभा का आयोजन, डीएम ने की शिरकत

नवादा नगर परिषद क्षेत्र के अंसार नगर में मोमिन हाई स्कूल के प्रांगण में हजरत मौलाना अहमद वली फैसल रहमानी साहेब सजदा नन्शी खनगा रहमानी मुंगेर के बिहार, उड़ीसा और झारखंड का आठवां अमीर-ए-शरीअत बनने के बाद नवादा में शुभ आगमन हुआ. उनके स्वागत के लिए नवादा शहर के प्रसिद्ध शिक्षण संस्थान मदरसा अजमतिया अंसार नगर के मोमिन हाई स्कूल में एक स्वागत समारोह और शिक्षा जागृति सभा का आयोजन किया गया.

कारी शोऐब आलम अध्यक्ष तालीमी मुषारावरती कमिटी इमारत शरिया मो मसीहउद्दीन के विशेष आग्रह पर जिलाधिकारी यशपाल मीणा मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए. जहां बुके देकर जिलाधिकारी को मसीउद्दीन और आयोजक के द्वारा स्वागत किया गया. इस अवसर पर डीएम यशपाल मीणा ने कहा कि युवक और युवतियों को भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए जिले में कई कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं. नवादा शहर के मध्य में स्थित नगर भवन में कैरियर गाइडेन्स कार्यक्रम पिछले रविवार को किया गया था, जिसमें जिले के सैंकड़ों प्रतिभागी सम्मिलित हुए.इसमें यूपीएससी टॉपर प्रवीण कुमार और अन्य के द्वारा यूपीएससी, बीपीएससी परीक्षाओं में सफलता के लिए कई टिप्स दिये गए. उन्होंने कहा कि जिले में पंचायतों की संख्या 187 है, जिसमें से 110 पंचायतों में पुस्तकालय स्थापित किये गए है. इन पुस्तकालयों में कैरियर गाइड्स के लिए काफी किताबें सुलभ करायी गयी है. उन्होंने कहा कि अब प्रतिमाह प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता हेतु कैरियर गाईडेन्स दी जायेगी. सफलता के लिए विषेष टिप्स दिये जायेंगे. इन पुस्तकालयों में मेडिकल, इंजिनियरिंग, बैंक पीओ आदि की प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के लिए किताबें और नोट्स सुलभ करायी गयी है. उन्होंने अपना मोबाइल नंबर दिया और बताया कि जिले की कोई भी समस्या हो तो मोबाइल नम्बर पर अवश्य सूचित करें, जिसको समाधान किया जायेगा. उन्होंने प्रतिभागियों को कहा कि जिन्हें प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के लिए किसी किताब या नोट्स जरूरत पड़े तो मोबाइल नंबर पर सूचित कर सकते हैं.

जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारी लोक सेवक हैं. आवाम का सेवा करना ही हम अधिकारियों का मुख्य कर्तव्य है. उन्होंने कहा कि मैं क्षेत्र में काफी भ्रमण/निरीक्षण करता हूं और लोगों की सुविधा का भौतिक सत्यापन भी करता हूं. उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में जिन बच्चों का स्कूल में दाखिला नहीं था उन्हें स्कूल में शत प्रतिशत नामांकण कराया गया. उन्होंने कहा कि युवक और युवतियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए बिहार सरकार के द्वारा कई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है. जिसमें सबसे महत्वपूर्ण है स्टूडेंट क्रेडिट कार्य योजना, इसके तहत तकनीकी और उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए सरकार के द्वारा चार लाख रूपये का ऋण दिया जाता है. डीआरसीसी बुधौल में स्थापित है, जंहा से इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है.जो बच्चे रहमानी-30 से चयनित हुए हैं, उनका सूची उपलब्ध कराये स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड का लाभ दिया जायेगा. इसके लिए ऑनलाईन आवेदन भी दिया जा सकता है. समाज को आगे बढ़ाने के लिए सभी का सहयोग जरूरी है. डीआरसीसी, जिला नियोजनालय और आईटीआई के द्वारा काफी संख्या में लोगों को जॉब दिया गया है. दूसरा महत्वपूर्ण स्कीम है कौशल विकास केन्द्र जो जिले के सभी प्रखंडों एवं मुख्य-मुख्य स्थलों पर संचालित किया जा रहा है. इसमें कम्प्यूटर का ज्ञान अंग्रजी का जानकारी और स्कील का विकास किया जा रहा है. प्रत्येक केन्द्र पर 40-40 बच्चों का बैच बनाकर कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है. मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता योजना के तहत इंटरमीडिएट पास कर छोड़ चुके विद्यार्थियों को प्रतिमाह एक-एक हजार रूपये किताब, कॉपी/प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के लिए दी जाती है.

नवादा के प्रजातंत्र चौक के पास एक केन्द्रीय पुस्तकालय काफी पुराना है, जहां पर 15 हजार से भी अधिक किताबें हैं, जो ज्ञान का विशाल भंडार है. इस जीर्ण-शीर्ण पुस्तकालय को जीर्णोद्धार कराया जा रहा है जहां प्रतिभागी आराम से बैठकर प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर सकेंगे. इस पुस्तकालय में सभी आधारभूत सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी. उन्होंने नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि कोविड-19 के तीसरे लहर की प्रबल संभावना बनी हुई है, जिसकी रोकथाम के लिए टीका जरूर लगा लें. ओमीक्रोन वायरस का प्रसार कई देशों में तेजी से फैल रहा है. इसके स्थायी निदान के लिए टीकाकरण अनिवार्य है. जिले के 300 से अधिक टीकाकेन्द्रों पर टीका लगायी जा रही है. अंसार नगर स्थित टीकाकेन्द्र पर मैं कई बार निरीक्षण करने आया हूॅ. उन्होंने अंत में कहा कि जो पढ़ेगा वह आगे बढ़ेगा. आज पढ़ाई सबसे जरूरी है. इस अवसर पर उन्होंने इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए आयोजक को सुक्रिया अदा किया. वहीं आयोजक के द्वारा बताया गया कि रहमानी फाउन्डेशन में 68 बच्चों को नीट में सफलता मिली है जो गौरव की बात है. रहमानी 30 के द्वारा भी सैंकड़ों बच्चों को लाभान्वित किया गया है. इसमें अतिथि के रूप में हजरत मौलाना मो शमषाद रहमानी कासमी नायब अमीरे शरिअत बिहार, उड़ीसा और झारखंड हजरत मौलाना मो शिबली कासमी कार्यवाहक सचिव इमारत शरिया तथा इंजीनियर फतह रहमानी सीईओ रहमानी -30, मो मसीउद्दीन, समाजसेवी जमाल मुस्तफा, डीपीओ सत्येंद्र प्रसाद एवं डीपीआरओ आदि समारोह में उपस्थित हुए. (सन्नी भगत की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.