Abhi Bharat

बेगूसराय : आंगनबाड़ी केंद्रों पर गर्भवती महिलाओं की हुई गोद भराई की रस्म

बेगूसराय में मातृ-शिशु मृत्युदर में कमी लाने के उद्देश्य व गर्भवती माताओं को कुपोषण से बचाने के लिए जिला के विभिन्न प्रखंडों में गर्भवती महिलाओं का गोद भराई कार्यक्रम आंगनबाड़ी केंद्रों पर आयोजित किए गए. इस दौरान गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों की देखभाल को लेकर कई जानकारियां भी दी गई.

गोद भराई का मुख्य उद्देश्य गर्भावस्था के दिनों में बेहतर पोषण की जरूरत के बारे में गर्भवती महिलाओं को अवगत कराना है. माता एवं गर्भस्थ शिशु के बेहतर स्वास्थ्य एवं प्रसव के दौरान होने वाली संभावित जटिलताओं में कमी लाने के लिए गर्भवती के साथ परिवार के लोगों को भी अच्छे पोषण पर ध्यान देना चाहिए. बेहतर पोषण एक स्वस्थ बच्चे के जन्म में सहायक होने के साथ गर्भवती महिलाओं में मातृ-शिशु मृत्यु दर में कमी भी लाता है.

इसी क्रम में आज के आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 28 सकरौली पर पंचायत की सेविका के द्वारा गोद भराई कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर पिरामल के प्रोग्राम लीड मो वकील और महिला पर्यवेक्षिका आरती सिन्हा ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को जैसे ही गर्भ का पता चले उन्हें अतिशीघ्र रजिस्ट्रेशन कराना है. टीकाकरण, आइरन, कैल्सियम का सेवन जैसे हरा पत्तेदार साग-सब्जी, मांस, मछली, दूध, दही, दलहन पदार्थ का भरपूर मात्रा में सेवन करने के साथ साथ प्रसव पूर्व कम से कम चार जांच नियमित रूप से कराने की भी सलाह दी गई. इस अवसर पर सेविका अनिता कुमारी, मीनू कुमारी सहित अन्य ग्रामीण मौजूद थे. (पिंकल कुमार की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.