Abhi Bharat

नालंदा : हिलसा उपकारा में बंद कैदी की मौत, परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाकर पुलिस व एम्बुलेंसकर्मी के साथ किया धक्का-मुक्की

नालंदा में गुरुवार को हिलसा उपकारा में बंद नगरनौसा थाना क्षेत्र निवासी टुन्ना पासवान की इलाज के दौरान मौत हो गई. वहीं घटना की जानकारी मिलते ही टुन्ना पासवान के परिजनों के द्वारा हिलसा अनुमंडल से लेकर बिहार शरीफ सदर अस्पताल तक जमकर हंगामा किया गया. परिजनों द्वारा सुरक्षाकर्मियों और एम्बुलेंसकर्मी के साथ भी मारपीट और धक्का-मुक्की भी की गई.

मृतक के पुत्र ने बताया कि दक्षिण ग्रामीण बैंक से एक लाख का लोन लिया गया था, जिसे चुकता नहीं करने के बैंक कर्मियों ने नगरनौसा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए टुन्ना पासवान को गिरफ्तार कर लिया. देर रात जेल में बंद टुन्ना पासवान की अचानक तबीयत बिगड़ गई, जिसके बाद जेल प्रशासन द्वारा हिलसा के अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. परिजनों ने इलाज में लापरवाही का जेल प्रशासन पर लगाया है.

मृतक के पुत्र का आरोप है कि जेल में उनके साथ मारपीट की गयी थी. जिसके कारण उसकी हालत बिगड़ गई और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. वहीं जेल प्रशासन ने मारपीट के आरोप को गलत बताया है. जेल प्रशासन का कहना है कि पूर्व से दिल के बीमारी से ग्रसित थे. इस कारण रात में उनकी तबियत बिगड़ गयी. इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया जहां उनकी मौत हो गयी. (प्रणय राज की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.