Abhi Bharat

बेगूसराय : बढ़ती महंगाई और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस ने निकाला विरोध मार्च

बेगूसराय में शुक्रवार को देश में दिन-प्रतिदिन बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी, अग्निपथ योजना एवं आवश्यक वस्तुओं (खाद्य पदार्थ) पर GST के ख़िलाफ़ अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवाह्न पर बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के निर्देश पर जिला कांग्रेस कमिटी के नेतृत्व में राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया.

बेगूसराय जिला कांग्रेस कमिटी के सम्मानित उपाध्यक्ष रामस्वरूप पासवान के अध्यक्षता में कांग्रेस भवन से हल्ला बोल प्रदर्शन आरंभ कर ट्रैफिक चौक होते हुए डीएम कार्यालय के समीप कैंटीन चौक पर विरोध प्रदर्शन करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का पुतला दहन कर विरोध जताया गया. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. वहीं कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बेगूसराय महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रूबी शर्मा ने कहा कि रोजाना पेट्रोल के दामों में बढ़ोतरी हो रही है. सब्जियों, दूध-दही, छांछ, दालों और तेल के दाम आसमान छू रहे हैं. गरीब और जरूरतमंद जनता को दो वक्त का खाना तक नसीब नहीं हो रहा है. बढ़ती महंगाई के कारण महिलाओं का रसोई बजट गड़बड़ा गया है. महिलाओं को घर परिवार चलाने में दिक्कतें उठानी पड़ रही है.

युवा कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष सह पूर्व जिलापरिषद् उपाध्यक्ष संजय कुमार ने बॉलीवुड फिल्म के गाने धीरे-धीरे प्यार को बढ़ाना है, हद से गुजर जाना है का उदाहरण देते हुए कहा कि गाने की भांति केंद्र सरकार भी देश में महंगाई को धीरे-धीरे बढ़ा रही है जो एक दिन हद से गुजर जाएगी. पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने से आम जनता काफी प्रभावित हुई है. महंगा डीजल मिलने से मालवाहक गाड़ियों के किराया बढ़ा है. इसका असर खाद्य और आवश्यक वस्तुओं की कीमतों पर पड़ा है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने अच्छे दिन लाने का वादा किया था. वर्तमान में अच्छे दिन बड़े पूंजीपतियों के आए हैं. गरीब जनता महंगाई के बोझ तले दब रही है. महंगाई को नियंत्रित करने में केंद्र सरकार विफल साबित हुई है.

प्रदर्शन में ब्रजकिशोर सिंह, नारायण सिंह, मिथिलेश झा, मोती सिंह, मदन प्रसाद सिंह, दिवाकर सिंह, डॉ रजनीश कुमार, श्रीकांत राय, जयप्रकाश गुप्ता, महेंद्र कुमार,अशोक राय, ब्रजेश कुमार प्रिंस, राम सुमिरन सिंह, विजय सिंह, ओमप्रकाश सिंह, मिथिलेश सिंह, राजेश महतो, मोहम्मद नाज हसन, सावर कुमार, सुनील सिंह, सुबोध सिंह, राजीव कुमार, सरोज पासवान, श्रवण सिंह शांति देवी, चंद्रभूषण झा, भोपेन्द्र सिंह, मो अख्तर, कुशमेश कुमार, गौरव कुमार, धर्मराज सहनी, आनंद प्रेम, आलोक कुमार, प्रमिला देवी, विनोद महतो, प्रभांशु कुमार बिट्टू, राघव कुमार, नीरज कुमार, कुमार रत्नेश टुल्लू, मुकेश कुमार, सुधीर सिंह, आदित्य गोलू, मो मतीन, विद्यानन्द सिंह, धर्मेन्द्र राय, बलबंत कुमार, भासो तांती आदि सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे. (पिंकल कुमार की रिपोर्ट).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.