Abhi Bharat

छपरा : कालाजार से बचाव को लेकर जीविका व जनप्रतिनिधियों के साथ आमजनों को जागरूक कर रहे पीसीआई के प्रेरक

छपरा जिले में कालाजार उन्मूलन को लेकर सघन छिड़काव अभियान की शुरुआत की गयी है, जो 66 दिनों तक चलेगा.

बता दें कि कालाजार से बचाव, उपचार तथा छिड़काव अभियान में सहयोग करने के लिए जन-समुदाय को जागरूक किया जा रहा है. जागरूक करने का कार्य पीसीआई के प्रतिनिधि व जीविका दीदी, आंगनबाड़ी सेविका, मुखिया, आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से किया जा रहा है.

पीसीआई के आरसीएम संजय कुमार यादव ने बताया कि छिड़काव को लेकर कई जगहों पर लोगों के द्वारा छिड़काव करने से मना किया जा रहा है. जिन्हें प्रेरित (मोबलाइज) कर दवा छिड़काव किया जा रहा है. इसके साथ आमजनों को कालाजार से बचाव के उपाय, कालाजार का इलाज तथा स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दी जाने वाली सेवाओं के बारे में जागरूक किया जा रहा है. छिड़काव कार्य योजना के अनुसार सभी कालाजार प्रभावित ग्रामों के सभी घरों, गौशालाओं में छिड़काव कराया जाना है. गुणवत्तापूर्ण छिड़काव की दृष्टि से पर्यवेक्षण अत्यंत आवश्यक है. प्रखंड स्तर पर विभिन्न स्तर के पदाधिकारियों के द्वारा पर्यवेक्षण सुनिश्चित किया जायेगा।

छिड़काव कार्य में सहयोग के लिए जागरूकता :

जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ दिलीप कुमार सिंह ने बताया कि छिड़काव के लिए आमजनों के बीच जागरूकता की आवश्यकता है. जिसमें आम जन अपने घरों में छिड़काव के लिए निर्धारित समय सक्रिय सहयोग करें. प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा अपने स्तर से छिड़काव के पूर्व सभी आक्रांत चिह्नित गांवों में एक दिवसीय माइकिंग एवं छिड़काव से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी देने के लिए फ्लैक्स बैनर लगवाया गया है. जन जागरण एवं प्रचार प्रसार के लिए स्कूल के शिक्षकों एवं पंचायती राज के सदस्यों की भी सहभागिता जरूरी है.

कालाजार क्लास का होगा आयोजन :

छिड़काव् के पूर्व संबंधित गांव की आशा के सहयोग से कालाजार कक्षा का आयोजन कराया जायेगा. जिसमें छिड़काव के पूर्व एवं व पश्चात बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बच्चों को जानकारी दी जायेगी. संबंधित गांव में छिड़काव की तिथि बच्चों की कॉपी पर लिखवायी जायेगी. जिसके तहत बच्चों से कहा जाएगा कि वे अपनी कॉपी में अंकित सूचना को अपने माता-पिता को बताएं. (सेंट्रल डेस्क).

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.